आठ भारतीय भाषाओं के सपोर्ट के साथ Reliance Jio ने लॉन्च किया नया ब्राउज़र एप्प

Reliance Jio ने अपना नया JioBrowser एप्प लॉन्च किया है जो आठ भारतीय भाषाएं सपोर्ट करता है। एप्प में एक बार भाषा बदलने के बाद ब्राउज़र का कॉन्टेंट चुनी गई भाषा में दिखा

Relience Jio Company ने एंड्राइड के लिए एक नया ब्राउज़र एप्प लॉन्च किया है। इस एप्प को जियोब्राउज़र नाम दिया गया है और यह JioBrowser गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। कम्पनी का कहना है कि यह एप्प तेज़ और लाइट है और भारतीय भाषाएं सपोर्ट करता है। इस एप्प का वर्ज़न नंबर 1.3.4 है और यह लोलीपॉप 5.0 एंड्राइड से लेकर सभी ऊपर के वर्ज़न वाले एंड्राइड डिवाइसेज़ पर काम कर सकता है।

इस एप्प का साइज़ 4.8MB है और JioBrowser एप्प आठ भारतीय भाषाएं सपोर्ट करता है जिसमें हिंदी, तमिल, तेलुगु, कन्नड़, मराठी, मलयालम, बंगाली और गुजराती शामिल हैं। क्योंकि यह एक लाइट ब्राउज़र एप्प है इसलिए गूगल क्रोम या UC ब्राउज़र एप्प जैसी सभी सुविधाएं ऑफर नहीं करता है, लेकिन यह सभी बेसिक सुविधाओं के साथ आता है। इस फीचर्स में टॉप साइट्स, ख़बरों के लिए होम स्क्रीन डिस्प्ले और प्राइवेट ब्राउज़िंग आदि शामिल है।

JioBrowser एप्प में होम स्क्रीन पर चार टैब्स उपलब्ध हैं। इनमें पहले टैब होम है जो MyJio, Ajio, BookMyShow आदि क्विक साइट्स दिखाता है। अगला न्यूज़ फीड सेक्शन है जो सभी श्रेणियों की ख़बरें दिखाता है इसमें खेल, मनोरंजन, राजनीति आदि शामिल है। तीसरा टैब विडियो का है जो अलग-अलग पोर्टल्स से विडियो दिखाता है। चौथा टैब एक लाइक आइकॉन है जिसमें क्विक साइट्स जैसे इन्स्टाग्राम, ट्विटर, यूट्यूब और कई अन्य शामिल हैं।

वेबसाइट पर नेविगेट करने के लिए फ्रंट और बैक विकल्पों को शामिल किया गया है। होम बटन में बुकमार्क्स मेन्यु और ओपन टैब्स के लिए बटन भी दिया गया है और साथ ही प्राइवेट ब्राउज़िंग के लिए इन्कोग्निटो मोड शामिल है।

जहां तक भाषा की बात है, एक बार भाषा बदलने के बाद ब्राउज़र का कॉन्टेंट चुनी गई भाषा में दिखाई देगा। पहली बारी में आपसे भाषा चुनने के लिए कहा जाएगा। भविष्य में भाषा बदलने के लिए आप सेटिंग्स मेन्यू में जा सकते हैं। ब्राउज़र में यूज़र्स मैन्युअली भी टेक्स्ट साइज़ को कस्टमाइज कर सकते हैं।

यह नया ब्राउज़र एप्प अभी शुरुआती अवस्था में है और समय के साथ यह और बेहतर होने की संभावना है। कम्पनी एप्प को और बेहतर बनाने के लिए यूज़र का फीडबैक ले रही है। यह एप्प ओपेरा टच, UC ब्राउज़र मिनी आदि को टक्कर देगा।

ई देगा।